Paid Link

Paid Link

Vajan Badhana | वजन बढ़ाने के 9 आसान घरेलू उपाय, नुस्खे, तरीके


Vajan हर किसी के व्यक्तित्व का सबसे मूल्यवान हिस्सा है। महिला हो या पुरुष, हर कोई अधिक आकर्षक और आश्वस्त दिखने के लिए एक सही Vajan और शरीर माप चाहता है। और यदि आप यहां हैं तो इसका मतलब है कि आप भी Vajan कम होने के कारण पीड़ित हैं। तो मेरे दोस्तों आपको बस स्क्रॉल करते रहने की जरूरत है और आपके सभी सवालों का जवाब पूरी तरह से हल हो जाएगा।

Vajan Badhana
Vajan Badhana



दोस्तों, Weight Gain वास्तव में बहुत गतिशील या मुश्किल नहीं है। यह सिर्फ आपके आहार और स्वास्थ्य के प्रति रूढ़िवादी होने के बारे में है। इसलिए इससे पहले कि हम आपको अपना कुछ खास Vajan badhana के बारे में बताएं, हम पहले अपने Vajan badhana के पीछे के विज्ञान के बारे में बात करते हैं।

Vajan Bahdane के पीछे का विज्ञान क्या है?

एक मार्ग(survey) के अनुसार, 10 में से केवल 3 लोग ही वजन बढ़ाना के पीछे के असली तंत्र को जानते हैं। हो सकता है कि आपको भी मानव शरीर के weight gain के वास्तविक तंत्र के बारे में जानकारी हो।

 यहां आपको मनुष्यों के Vajan badhana  के वास्तविक विज्ञान के बारे में पता चलेगा। सरल में, जब कैलोरी का सेवन हमारे शरीर के कैलोरी खर्च से अधिक हो जाता है तो हमारा Vajan  तेजी से बढ़ने लगता है।

और अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो आपको इसके विपरीत करना होगा। इसका मतलब है कि आपको कम कैलोरी खाना होगा। और सुबह कार्डियो-आधारित व्यायाम करके अधिक कैलोरी जलाएं। अगर आप इस विषय में और पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारे इस लेख को अवश्य पढ़ें मोटापा घटाने के उपाय अधिक जानकारी के लिए।

तो इससे निकलने वाला सरल सूत्र है, अपने Vajan badhana के लिए आपको अपने कैलोरी की खपत को बढ़ाने की आवश्यकता है। Weight बढ़ने के पीछे एक और विज्ञान, आपके आनुवांशिक कारक हैं। हमारे शरीर का माप(measurements) ज्यादातर आनुवंशिक कारक(Genetic factors) और हमारे शरीर के हार्मोनल परिवर्तन पर निर्भर करता है। और आनुवंशिक समस्या के मामले में अपना weight gain थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

वजन बढ़ाना

जांचें कि आप कम Vajan के हैं या नहीं।(Check your Health Status)

यह जरूरी नहीं है कि फिट रहने के लिए आपको Vajan badhana की जरूरत है। शायद आपको आत्मविश्वास या स्वस्थ होने के लिए weight gaining tips की आवश्यकता नहीं है। विज्ञान हमें यह जाँचने का एक शानदार तरीका देता है कि हम Underweight वाले हैं या नहीं और इसे BMI (बॉडी मास इंडेक्स) कहा जाता है। BMI सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला स्वास्थ्य कैल्कुलर है जिसमें हम किसी व्यक्ति की Height और weight का उपयोग करके उसकी स्वास्थ्य स्थिति की जांच करते हैं।


Vajan badhana




BMI गणना के लिए सूत्र BMI = kg/m2 है। यदि आपका BMI 18.5 से कम है, तो आपको वास्तव में अपना Weight gain tips की आवश्यकता है। आपको इस बारे में स्पष्ट होना चाहिए कि कम वजन का होना स्वास्थ्य संबंधी समस्या नहीं है। बल्कि यह सिर्फ आहार और आनुवांशिक कारकों का खेल है। उपरोक्त सूत्र से आप आसानी से जान सकते हैं कि आप कम वजन के हैं या नहीं। अब हम चर्चा करते हैं कि आपको अपना weight gaining करने की आवश्यकता क्यों है?

आपको अपना  Vajan badhana की आवश्यकता क्यों है?(why you need to follow weight gain tips in hindi)

शरीर में एक सही Weight होना वास्तव में ईश्वर के उपहार की तरह है। यह केवल आपके संचार के तरीके को बेहतर बनाता है, बल्कि यह आपके आत्मविश्वास, आपकी शक्ति, आपकी क्षमता और समग्र व्यक्तित्व को भी बढ़ाता है। सही weight होने से आपकी मांसपेशियों की शक्ति बढ़ती है और आप अधिक आकर्षक बनते हैं। इसलिए यदि आप कम weight के हैं तो आपको अपने शरीर पर सही weight पाने के लिए नीचे दिए गए Vajan badhana का पालन करना होगा। इस टिप्स को फॉलो करके आप 1 महीने के अंदर अपने शरीर के वजन में बदलाव महसूस करेंगे।

vajan bahdane ke liye

9 सर्वश्रेष्ठ आयुर्वेदिक WEIGHT बढ़ाने के टिप्स (9 Best Ayvajan Bahdane ke liye Tips in Hindi)

आधुनिक विज्ञान और आयुर्वेद के अनुसार, ऐसे कई तरीके हैं जो स्वस्थ वजन बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। इसलिए हम कुछ सबसे महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा करने जा रहे हैं। वजन बढ़ाने के ये टिप्स आसान हैं और इन पर ज्यादा खर्च नहीं होता है। अगर आप वजन बढ़ाना चाहते हैं तो आपको कुछ महीनों के लिए इन नुस्खों का पालन करना चाहिए।

Vajan Bahdane

  1. उच्च प्रोटीन भोजन खाएं क्योंकि जब वजन बढ़ाने की बात आती है तो प्रोटीन बेहद आवश्यक है। प्रोटीन क्षतिग्रस्त मांसपेशी फाइबर की मरम्मत करता है और उन्हें मजबूत बनाने के साथ-साथ बड़ा भी बनाता है। जिसका मतलब है अधिक स्वस्थ वजन।
  2. पर्याप्त तरल पदार्थ पीना भी आयुर्वेद में weight gaining का सबसे चुना हुआ तरीका है। हाइडरेटेड रहना हमारे चयापचय को ठीक से और कुशलता से काम करने में मदद करता है। अपने दिन की शुरुआत करने का सही तरीका है खाली पेट 1 से 3 गिलास पानी पीना। इस टिप के साथ हमारे ऊतक जलमग्न हो जाएंगे और सभी अपशिष्ट विषाक्त पदार्थ पूरी तरह से नष्ट हो जाएंगे।
  3. तनाव वास्तव में हमारे शरीर के weight को बहुत बुरी तरह से प्रभावित करता है। तनाव में रहने से हमें अपने शरीर का अच्छा आकार और सही weight कभी नहीं मिल पाता है। इसलिए सही वजन और व्यक्तित्व पाने के लिए, आपको तनाव और मानसिक मुद्दों से पूरी तरह मुक्त होना चाहिए। अपने तनाव को दूर करने के लिए आप गेम खेलने, गाने सुनने, दोस्तों के साथ बाहर जाने और अपने सप्ताहांत में आनंद लेने की कोशिश कर सकते हैं।
  4. भोजन गति कुछ लोगों को अपने भोजन को बहुत तेज या बहुत धीमी गति से खाने की आदत होती है। यह दिनचर्या उनके शरीर के वजन को बुरी तरह प्रभावित करती है। सामान्य गति में भोजन करना, तो बहुत तेज धीमा होना हमारे शरीर की गुलामी ग्रंथि को सहारा देता है और पाचन में सुधार करता है
  5. अश्वगंधा weight gaining के लिए सबसे अच्छा जादुई टॉनिक के रूप में जाना जाता है। आयुर्वेद में, अश्वगंधा प्राकृतिक रूप से WEIGHT बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका है। अश्वगंधा केवल वजन बढ़ाने में मदद करता है यहां तक कि यह हमें अवसाद, निराशा और अन्य मानसिक मुद्दों से दूर रखता है जो हमारे शरीर के स्वास्थ्य को प्रभावित करते हैं। यदि आप अपना वज़न तेज़ी से बढ़ाना चाहते हैं तो अश्वगंधा आपके लिए एकदम सही है। यदि आप दूध के साथ अश्वगंधा का उपयोग करते हैं, तो आपको परिणाम अधिक तेज़ी से दिखाई देगा।
  6. नियमित व्यायाम भी वजन बढ़ाने का एक बहुत बड़ा कारक है। आप जिम में योग और वेट ट्रेनिंग कर सकते हैं। अगर आपके स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या है तो दोनों ही आपके लिए बेहद फायदेमंद हैं। जब आप स्वस्थ वजन प्राप्त करने की बात करते हैं तो हम आपको अत्यधिक प्रशिक्षण(weight training in gym) शुरू करने का सुझाव देते हैं। 
  7. सफेद खाना खाना बंद करें क्योंकि यह शरीर में अस्वास्थ्यकर वजन को बढ़ावा देता है। खाद्य पदार्थ जैसे सफेद ब्रेड, सफेद चावल, मैदा, सफेद चीनी और अन्य चीजें। आप गेहूं की रोटी, ब्राउन राइस, ओट्स और अन्य चीजें खा सकते हैं। 
  8. अपनी कैलोरी को अधिकतम करने के लिए दिन में 5 से 6 बार खाएं। आपको 3 मुख्य भोजन और 2 स्नैक्स(snacks) खाने चाहिए। 
  9. Eat healthy fats और unhealthy fats से बचें। Unhealthy fats  के कारण, आपका शरीर तेज दर से अस्वास्थ्यकर वजन प्राप्त करेगा। दूसरी ओर, स्वस्थ वसा मांसपेशियों के लाभ को बढ़ावा देती है और शरीर में स्वस्थ हार्मोन को बनाए रखती है।

हेल्दी वेट और अनहेल्दी वेट के बीच अंतर क्या है

बहुत से लोग इस बात को लेकर उलझन में हैं कि उनका हेल्दी वेट है या अनहेल्दी है। वे नहीं जानते कि कैसे पता लगाया जाए। इसलिए वे अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं।

जब आपके शरीर में मांसपेशियों की तुलना में अधिक वसा(चरबी) होता है तो इसका मतलब है कि आपका अस्वस्थ वजन है। दूसरी ओर, यदि आपके पास इससे अधिक मांसपेशी है तो इसका मतलब है कि आपका स्वस्थ वजन है। यदि आप अधिक मांसपेशियों को प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको हमारा लेख बॉडी कैसे बनाये अवश्य पढ़ना चाहिए।

Post a Comment

2 Comments

Guys thanks for your support and love!!!!